UP SI भर्ती धांधली Latest खबर, धरना प्रदर्शन की तैयारी, कोर्ट का आदेश – बड़ी खबर (UP SI Recruitment Rigging Latest News)

लखनऊ : उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड, लखनऊ की ओर से पुलिस सब इंस्पेक्टर व अन्य हेतु 9534 पदों की भर्ती 2020-21 परीक्षा में हुई धांधली को लेकर याचिका 23-12-21को दाखिल रिजल्ट पर तत्काल रोक लगाते हुए पुनः परीक्षा कराए जाने व सी.बी.आई. / उच्च स्तरीय जांच की मांग

अभ्यर्थियों ने पुलिस भर्ती बोर्ड, लखनऊ के द्वारा परीक्षा कराए जाने हेतु टेंडर दिए जाने के बाद मुम्बई की प्राइवेट कम्पनी नेशनल स्टॉक एक्सचेंज इनफार्मेशन टेक्नोलोजी लिमिटेड (NSEIT) पर धांधली के आरोप लगाया है।

परीक्षा सेन्टर के अंदर मोबाइल से फोटो खिंचने की तस्वीर वायरल होने व वी. एन. सी. ऐप से सेंटर पर उपलब्ध कराए गए कंप्यूटर स्क्रीन को सेंटर से बाहर बैठे गिरोह के द्वारा वर्चुअल नेटवर्क कंप्यूटिंग (वी. एन.सी सिस्टम सर्वर) के द्वारा शेयर कर प्रश्नपत्र हल कर हाइ स्कोर प्राप्त करने का आया है मामला।

Join

अभ्यर्थी प्रवीन कुमार, मेरठ के अगस्त 2021 महीने में प्रारम्भिक अर्हता परीक्षा (PET) में 100 में से 18 प्रश्न सही करना और उसके बाद वर्तमान सब इंस्पेक्टर भर्ती परीक्षा में 160 क्वेश्चन में 131 क्वेश्चन (हाई स्कोर) सही करना सवालों के घेरे में है। इस अभ्यर्थी ने 13 प्रश्न छोड़ दिये जबकि नेगेटिव मार्किंग नहीं थी। इसी प्रकार प्रतीक चौधरी आगरा के PET में 37.50 % और सब इंस्पेक्टर भर्ती में 96.87% अंक मिलना सवाल के घेरे में है। इसके अलावा आगरा के अनूप शर्मा 154 क्वेश्चन आलोक शर्तिया मेरठ ने 153 क्वेश्चन विवेक यादव- मेरठ 153 क्वेश्चन हाई स्कोर नम्बर प्राप्त किया है 160 क्वेश्चन में से, जो कि सवालों के घेरे में है, जाँच की मांग की है साल्वर गैंग के द्वारा ऐसे कई सैकड़ों लोगों को फर्जीवाड़ा कर परीक्षा दिलाई गई है।

रिजल्ट पर तत्काल रोक लगाते हुए पुनः परीक्षा कराए जाने व सी.बी.आई. / उच्च स्तरीय जांच की मांग

अभ्यर्थियों ने पुलिस भर्ती बोर्ड, लखनऊ के द्वारा परीक्षा कराए जाने हेतु टैंडर दिए जाने के बाद मुम्बई की प्राइवेट कम्पनी नेशनल स्टॉक एक्सचेंज इनफार्मेशन टेक्नोलोजी लिमिटेड (NSEIT) पर धांधली के आरोप लगाया है। परीक्षा सेन्टर के अंदर मोबाइल से फोटो खिंचने की तस्वीर वायरल होने व वी. एन. सी. ऐप से सेंटर पर उपलब्ध कराए गए कंप्यूटर स्क्रीन को सेंटर से बाहर बैठे गिरोह के द्वारा वर्चुअल नेटवर्क कंप्यूटिंग (वी. एन.सी सिस्टम सर्वर) के द्वारा शेयर कर प्रश्नपत्र हल कर हाइ स्कोर प्राप्त करने का आया है मामला।

अभ्यर्थी प्रवीन कुमार, मेरठ के अगस्त 2021 महीने में प्रारम्भिक अर्हता परीक्षा (PET) में 100 में से 18 प्रश्न सही करना और उसके बाद वर्तमान सब इंस्पेक्टर भर्ती परीक्षा में 160 क्वेश्चन में 131 क्वेश्चन (हाई स्कोर) सही करना सवालों के घेरे में है। इस अभ्यर्थी ने 13 प्रश्न छोड़ दिये जबकि नेगेटिव मार्किंग नहीं थी। इसी प्रकार प्रतीक चौधरी आगरा के PET में 37.50 %और सब इंस्पेक्टर भर्ती में 96.87% अंक मिलना सवालों घेरे में है। इसके अलावा आगरा के अनूप शर्मा 154 क्वेश्चन आलोक शर्तिया मेरठ ने 153 क्वेश्चन विवेक यादव- मेरठ 153 क्वेश्चन हाई स्कोर नम्बर प्राप्त किया है 160 क्वेश्चन में से, जो कि सवालों के घेरे में है, जाँच की मांग की है साल्वर गैंग के द्वारा ऐसे कई सैकड़ों लोगों को फर्जीवाड़ा कर परीक्षा दिलाई गई है।

आरोप है सॉल्वर गैंग ने 10 से 15 लाख रुपये लेकर कंपनी और परीक्षा सेंटर के साथ मिलकर बी एन सी ऐप/ सर्वर के द्वारा प्रश्न पत्र हल कर हाई स्कोर प्राप्त कराया।

UP SI भर्ती धांधली को लेकर मुख्य मंत्री को सौंपा ज्ञापन-

UP SI धांधली को लेकर प्रसिद्ध समाचार जागरण की एक रिपोर्ट-

दारोगा भर्ती में मास्टर कंप्यूटर हैक कर हल किया प्रश्नपत्र

जागरण संवाददाता, मेरठ यूपी दारोगा : भर्ती परीक्षा में साइबर एक्सपर्ट की मदद से परीक्षा केंद्र के मास्टर कंप्यूटर को रिमोट से हैक कर प्रश्न- पत्र हल किए गए। एसटीएफ की टीम ने तीन साइबर एक्सपर्ट को पकड़ा है। इनके कब्जे से आनलाइन प्रश्न-पत्र भी मिला है। कंप्यूटर कब्जे में लिया गया है। साल्वर प्रति छात्र आठ-दस लाख रुपये वसूल रहे थे।

सीओ ब्रिजेश सिंह ने बताया कि अलीगढ़ के बन्नादेवी थाना क्षेत्र के महर्षि गौतम इंटर कालेज में भर्ती का आनलाइन परीक्षा का सेंटर है। पता चला कि कालेज से प्रश्नपत्र हैक कर अभ्यर्थियों को उपलब्ध कराया जा रहा है। कालेज के पास राजबीर का मकान है, जिसके अंदर से कालेज के मास्टर कंप्यूटर से कनेक्शन कालेज के मालिक योगेंद्र ने जुड़वाया। एसटीएफ ने शुक्रवार को छापा मारकर राजबीर, राजू उर्फ दीपक तथा हिमांशु को गिरफ्तार किया है।

UP SI Recruitment Rigging Latest News
UP SI Recruitment Rigging Latest News

नेटवर्किंग टेक्नीशियन राजू उर्फ दीपक ने पूछताछ में बताया कि योगेंद्र ने मकान स्वामी को फ्री इंटरनेट और प्रतिदिन बीस हजार रुपये किराए का लोभ दिया। योगेंद्र ने ही एनएसईआइटी कंपनी के सेंटर हेड हिमांशु निवासी हरिद्वार से कालेज के मास्टर कंप्यूटर से कनेक्शन दिलाया था। अलीगढ़ निवासी दीपक उर्फ जीतू को पूरे सिस्टम को सेट करने के लिए एक लाख रुपये दिए गए। एसटीएफ के अनुसार वाईफाई राउटर से आरोपितों ने मेन सिस्टम इंस्टाल किया। केंद्र की लैब में लेन केबल डाली गई, जो केंद्र के मास्टर कंप्यूटरसे जोड़ी गई। आरोपित आइपी एड्रेस से लैब का सिस्टम रिमोट पर लेकर पेपर हल कर देते थे।

UP SI भर्ती धांधली को लेकर छात्रों का विरोध-

UP SI भर्ती धांधली को लेकर छात्र लगातार विरोध प्रदर्शन कर रहे है तथा न्याय की मांग कर रहे है ओर आने वाली 26 दिसंबर को बड़े स्तर पर विरोध प्रदर्शन करने की तैयारी कर रहे है ऐसे सूत्रों के हवाले से पता लगाया जा रहा है, छात्र 26 दिसंबर से UP SI भर्ती धांधली को लेकर लगातार धरना प्रदर्शन करेंगे तथा सरकार से निष्पक्ष जांच की मांग करेंगे। आपको बता दें कि अभी तक कोर्ट में UP SI भर्ती धांधली को लेकर 3 रीट पड चुकी है, जबकि 1 और रीट 27/28 दिसंबर को पड़ने की संभावना जताई जा रही है।

UP SI भर्ती धांधली को लेकर कहाँ होगा प्रदर्शन-

सूत्रों के हवाले से पता लगाया जा रहा है की UP SI भर्ती धांधली को लेकर प्रयागराज के आजाद पार्क में 26 दिसंबर 2021 को सुबह 10 बजे गेट नंबर 3 पर छात्रों की धरना प्रदर्शन करने की उम्मीद जताई जा रही है। जिसके लिए हमारे पास एक पोस्टर भी आया है जिसको हम आपको दिखाना चाहेगे।

UP SI की सभी खबरों के लिए गूगल पर सर्च करें www.physicshindi.com तथा अपने दोस्तों के साथ शेयर ज़रूर करें।

यूपी SI से जुड़ी सभी खबरों के लिए ये वाला व्हाट्सएप ग्रुप जॉइन करेंCLICK HERE